कोट्स New

ऑडियो

मंच

पढ़ें

प्रतियोगिता


लिखें

साइन इन
Wohoo!,
Dear user,

नोट : कन्टेन्ट क्रमांक चुने हुए जोनर के तहत फिल्टर में प्रदर्शित होंगे : others

खुद भूखे रह द्वार पर आए भिक्षुक को खिलाने की प्रथा read more

3     65    1    3635

लेकिन मेरा सुनना किसी ने नहीं है सबको अपनी मनमानी read more

2     2    1    5269

इस तरह लॉक डाउन का छठा दिन भी समाप्त हो गया लेकिन कहानी अभी अगले भाग में जारी read more

4     53    1    1552

साहेब को आज देर से जाना था , 21 दिन कि तड़प जो मिटानी थी read more

3     1    0    1554

वो घर से निकला, एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल भटकता read more

3     10    0    2796

अब ऐसे में हमारे राजनीति वाले लोग पीछे कैसे रहते - कहा, की कांग्रेस होती तो कोरोना न read more

3     0    0    3563

जब तुम्हारे पापा कॉलेज में पढ़ते थे तब एक बहुत डरावना राक्षस read more

3     327    0    5900

भगवान से प्रार्थना करती हूं कि 21 दिन के भीतर ही हम इस संकट से उबर read more

3     1    1    2794

कुछेक संबंधों में आपसी द्वेष, ईर्ष्या और जलन की भावना भी बढ़चढ़कर मिलती read more

4     24    1    1552

इस तरह लॉक डाउन का पांचवा दिन भी खत्म हो read more

4     54    3    2302

इस संकट की घड़ी में हम कामना करते है की घर मे रहे, स्वस्थ रहे, सुरक्षित read more

2     0    1    4265

यही अनुरोध है की 14 अप्रैल तक घर में ही रहे। और अफवाहों पर ध्यान ना read more

2     0    1    4265

ये गंभीर हालत इस लिए थी क्योंकि डर सबको लग रहा read more

4     202    3    4258

लगभग 12 बजे मुझे नींद आ गयी और मैं सो read more

4     39    2    1156

शहर-शहर से लेकर, यह जानकारी दूर-दराज के लोगों तक read more

2     369    0    2224

डिजिटल इंडिया के इस युग में न जाने कहां गुम हो गईं read more

1     161    1    3635

पलायन
© Kunda Shamkuwar

Abstract Others +1

आप ही बताएँ की जब सारे प्यादे पलायन कर जायेंगे तब कौन राजा या वजीर रह सकता read more

2     6    2    5266

समाज को प्यार को परिभाषित करने की अनुमति देना बंद read more

3     5    2    5267

लेकिन मुझे बहुत याद आते हैं read more

1     2    0    5900

उम्मीद की आस मैं बैठा हूँ की जल्दी सब वापिस ठीक हो read more

3     204    3    3630

तन्वी ने इधर उधर अन्धेरे मे देखने की कोशिश की। कुछ दूरी पर उसे कुछ चमकता सा दिखाई read more

5     44    4    662

फिर मैं सोचने लगा की बायो वॉर के बारे में पढ़ा था क्या ये वही हैं read more

3     506    5    2860

अभी तो लगता है सुबह शुरू होती है कब तक चलती है पता नहीं लेकिन फिर से सुबह ही शुरू read more

1     0    0    7267

जब हमारे जीवन को प्रभावित करने लगे तो उससे दूरी बना लेना ही ठीक होता read more

3     105    1    2794

सूर्य देवता को जल दे मैं भी उनसे शक्ति और ऊर्जा देने की माँग कर रही read more

3     95    2    5267

विनय ने भी उसकी तरफ देख कर इशारे से उसकी तारीफ read more

2     265    0    1554

इतनी सेवा की उम्मीद तो एक सास अपनी बहु से रख ही सकती है, है कि नहीं ? बोलो read more

3     259    1    1552

भारतीय परंपरा और संस्कार में महिला मित्र की कोई सम्भावना नहीं read more

1     129    0    4267

अध्यापक- इनसे मेरी मुलाक़ात ईमेल से पहले read more

3     141    0    4267

भारत के भू-भाग पर रहने वाला प्रत्येक व्यक्ति समान रूप से महत्वपूर्ण read more

3     20    1    7023