कोट्स New

ऑडियो

मंच

पढ़ें

प्रतियोगिता


लिखें

साइन इन
Wohoo!,
Dear user,

नोट : कन्टेन्ट क्रमांक चुने हुए जोनर के तहत फिल्टर में प्रदर्शित होंगे : others

एक ऋषि ने एक अमीर आदमी के दरवाजे को लत्ता पहनाया और एक खाली कटोरे के साथ दूर चला read more

1     1    1   

रुपया मनुष्य ने बनाया और आज रुपया मनुष्य से ज्यादा कीमती हो गया read more

1     1    0   

कैलाश ने मुस्कुराते हुये कहा "पड़ता है, पर मैं हमेशा कहता था, कि इतिहास स्वयं को read more

1     0    0   

तब दोनों ही एक दूसरे से ख़तरा महसूस करने लगते read more

1     15    0   

पहले औरत के हिस्से में कोई छुट्टी नहीं होती थी, तो बड़े बूढ़ों ने उसे इस मुश्किल समय read more

5     1    0    1905

उचक कर देखा तो भौचक्का रह गया। कल तक तो सारी की सारी क्यारियां और उनमें पनपे हर read more

3     30    3    2663

तभी भगवान वहां आए और कुत्ते से चिल्लाने का कारण read more

1     0    0   

औरत दोनों ही एक दूसरे से संपर्क में ज्यादा रहते हैैं। आप कौन से प्रेम में जी रहे read more

2     13    1    4974

समय
© Kunda Shamkuwar

Abstract Inspirational +1

इंटरनेट का मायाजाल देखते हुए मैं फेस बुक और व्हाट्सऐप के अनगिनत दोस्त भी देख रहा हूँ read more

1     4    0    2664

सच पूछिए तो हमारी कोई कामना नहीं थी उस तस्वीर read more

4     0    0   

वसंत ऋतु का समय था सुबह सुबह गौतम गुरु जी नहा धो और भोजन करके विद्यालय के लिए घर से read more

3     1    0    4874

भरत और माँ ये देख कर खुश हो read more

2     4    1    2202

आकाश पर छाई रक्तिम आभा स्याह होने जा रही थी। ये सब पता नहीं अब तक क्यों नहीं read more

10     4    0    3362

वेदना हमारी अंतर्मन की दशा और भावो को व्यक्त करती है ।ये हमारी शारीरिक और मानसिक read more

2     0    0    3362

जाना-पहचाना नाम सुनते ही स्टीव के जेहन में चर्च के घण्टे बजने लगे। इतने तेज़ कि उसका read more

2     0    0    2111

"आज से घर के हर एक काम में सभी लोग हाथ बंटायेंगे ताकि मां को भी आराम करने का मौका read more

3     21    1    2662

सुभम इतने सिंगर देख कर हैरान हो read more

5     6    1    4006

तब की बात कुछ और थी चले जा रहे थे लफंटू कि तरह मौज़ में मग्न रास्ते read more

2     15    1    5580

मानो जैसे कोई क़हर बस ढाने को read more

2     1    1    6651

यह क्या यह तो पुरानी सहेलियों के खत हैं जिनमें जाने कितनी दिलों की बातें भरी हुई read more

2     0    0    6245

कृष्णा बोला - ठीक है ईश्वर में आपकी बातो पर निर्भर read more

2     60    3    3478

गरीब आदमी को अपनी अमीर बेटी को किसी के हाथो में सौप नहीं read more

2     45    2    3480

दोनों बाजार गए और उस बच्ची के लिए दो स्वेटर और दो पजामे खरीदे। उसी चौरस्ते पर गाड़ी read more

2     21    1    3362

दिन बीतते गए लेकिन आशुतोष रजनी के व्यवहार में कोई परिवर्तन नहीं read more

6     0    0    3362

वो सोच रहे थे अगर विजय जैसे प्रकृति से प्यार करने वाले नौजवान अपनी मेहनत और ज्ञान read more

4     1    0    3362

"मैं तो नौकरी के दम पर जिंदगी काट रही हूँ ...और तुम पहाड़ सा जीवन कैसे काटोगी रेशमा read more

1     40    2    3482

,मैं अपने हिस्से की बगिया महका चुका कल मेरी बारी थी बगिया को महकाने की आज तुम्हारी read more

1     1    0    4007

मन ही मन वह कहने लगी,'तुम्हें यह सब अब नहीं समझ में आएगा,लड़कों को अगर त्रिकोण बनने read more

1     32    3    1555

वो रिक्शा वाला दोनो हाथों को जोड़ कर सर तक ले आया "नहीं ,नहीं। माफ कर read more

5     181    4    1125

बहुत कोशिश के बाद मैंने हिम्मत की और अपना सीधा पैर उठाया जो ज़ख़्मी हो गया था, सीधा read more

3     15    0    3362