कोट्स New

ऑडियो

मंच

पढ़ें

प्रतियोगिता


लिखें

साइन इन
Wohoo!,
Dear user,

नोट : कन्टेन्ट क्रमांक चुने हुए जोनर के तहत फिल्टर में प्रदर्शित होंगे : others

इस सिसकती जिंदगी को जिंदगी कैसे कहूँजो करी तुमने थी मेरी बन्दगी कैसे read more

1     21.1K    14    3005

तुम्हारी ज़ुल्फ का एक टुकड़ा मेरे कोट के एक बटन में कल लिपट कर मेरे पास आ गया था, मेरी read more

2     21.1K    15    2530

“काली चिड़िया” लड़का इसका जवाब उस लकड़ी कि काली चिड़िया में ढूढ़ता है ...लेकिन कही खिलोने read more

5     21.1K    11    2536

आखें गड़ाकर देखती रहूँ आसमान कि टूटेगा कोई तारा अभी और मैं झट से आँख read more

1     21.1K    15    3004

हिंदी साहित्य में अंग्रेजी के प्रयोग के विरोध में एक रचना प्रस्तुत है read more

1     21.1K    1    3009

Amazon best reads for August !!

Always learning ...story writing and telling others is my read more

4     21.1K    16    2526

"मुझे तो डर है कि पिचासी साल की उमर में अगर उन्हें कुछ हो गया तो पता नहीं, अस्पताल read more

71     21.1K    15    1903

  उसे अपने आप पर बहुत शर्मिंदगी होने लगी। चुपचाप अपनी सीट पर आकर बैठ गया और शीशा read more

18     21.1K    11    2342

कर्फ्यू
© Rishi Pande

Inspirational Tragedy

इस कहानी की एक बहुत बड़ी बदकिस्मती ये है, कि इसकी नीव एक ऐसे सच ने रक्खी है, जो read more

7     21.1K    17    2334

9किशोर अवस्था विश्वास मांगती है अपने से बड़ो का, और जब साथ नहीं मिलता तो विषाद के read more

6     21.0K    14    2532

आख़िर धर्म से तो उनकी विवाहिता हूँ। वे धर्म नहीं निभा पाये यह बात दीगर है। कुमार read more

24     21.0K    12    1743

खोज लिया  था मैंने खुद को  ! हा ! हा ! ढूंढ़ते  ढूंढ़ते आखहिर ढूंढ ही लिया था  था read more

2     21.0K    13    2770

सेरेब्रल पाल्सी से जूझ रही आद्या और उसकी माँ दीपा की ज़िंदगी का कुछ अलग ही रंग read more

3     21.0K    29    277

बालकों में अच्छे संस्कार सिंचन का प्रयास.... आनन्द read more

9     21.0K    20    1738

उन दिनों लोग रिटायर होने के करीब पहुँचने पर प्रोफेसर बना करते थे। बहुत-से तो बन ही read more

71     21.0K    15    1568

भावुकता की महानदी में, डुबकी साथ लगाई हमनें एक कलम से कविता लिखकर, भरे कंठ से गाई read more

1     21.0K    15    2528

नदी के दो किनारों से बहते यूँ तो आ गए पास read more

1     21.0K    20    2522

ईश्वर तो कहता है खुद में डूब वहीं सन्दल बिखरेगाअधरों की प्यासी धरती पर मधुरित read more

1     21.0K    10    2772

भाग 11 में आपने पढ़ा कि ज्योति भरे कोर्ट में कातिल को बेनकाब करने का दावा करते हुए read more

6     21.0K    22    1429

कुछ निरीह चंचल कुछ खूखार भेडिये.. जो बनें है कलुषित –भावों से अंतर-ग्लानी read more

1     21.0K    10    3008

तभी एक चुलबुली लहर ने दोनों के पैर भिगो दिऐ और लौटकर समंदर के सीने में समा गई। मीरा read more

19     21.0K    16    1740

सांवली की बड़ी-बड़ी आँखें आश्चर्य से और बड़ी हो पूरे कमरे का मुआयना कर रहीं थीं। एक read more

8     21.0K    20    1738

शादी का मतलब बंधन नहीं साथ होता read more

12     20.9K    16    1432

अब तुम चली गयी हो, उस गुड़हल के मोह को प्रेम में तब्दील करके ! अब गुड़हल फर्श के नीचे read more

1     20.9K    12    2335

23 अप्रैल 1995। लखीमपुर खीरी का वाई.डी. कालेज। मैं शाम को परीक्षा कक्ष में बैठा हुआ read more

44     20.9K    13    2534

किसी भी चीज के प्रति तत्काल आकर्षित होना और फिर उससे ऊब जाना प्रकाश की विशेषता थी। read more

20     20.9K    9    2538

रोज़मर्रा में कभी कभी ऐसी घटनायें घट जाती है जो आपको सोचने पर मज़बूर कर देती है . read more

13     20.9K    8    3248

एक ऐसी कहानी जो आप को भावनाओं के कई सुरंगो से गुजारती हुई , आप को अचानक ऐसे आसमान के read more

29     20.8K    5    2521

Amazon best reads for August !!

"सर, आदेश मिलते ही हम ने अब्दुल चाचा को गिरफ़्तार तो कर लिया और टी वी पर समाचार भी आ read more

1     20.8K    17    2340

लहरों की read more

78     20.8K    11    2124