Read #1 book on Hinduism and enhance your understanding of ancient Indian history.
Read #1 book on Hinduism and enhance your understanding of ancient Indian history.
विद्यमान...

विद्यमान वृक्षों की देखभाल की अनदेखी और प्राकृतिक खाद स्वरुप जैविक अपशिष्ट का उपयोग वृक्षों के पोषण के लिए न करते हुए उसे कुडेदान में फेंककर, हम एक अपराध के भागी होते है, जिस कारण हम ग्लोबल वार्मिंग और जलवायु परिवर्तन के लिए अंशिक उत्तरदायी हो जाते हैं । जीवित जीवन

By Nitin Kumar
 350


More hindi quote from Nitin Kumar
27 Likes   0 Comments
20 Likes   0 Comments
22 Likes   0 Comments
19 Likes   0 Comments
24 Likes   0 Comments