Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!
Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!

Dr Lakshman Jha "Parimal"Author of the Year 2021

Others

4  

Dr Lakshman Jha "Parimal"Author of the Year 2021

Others

“फेसबुक मित्रों की बेरुखी”

“फेसबुक मित्रों की बेरुखी”

1 min
11



कहो तुम दोस्त हो कैसे ? नहीं तुम उसकी सुनते हो !

जुड़े हो तुम सदा उनसे नहीं तुम दोस्त लगते हो !!


नहीं जाना तुम्हें हमने तुम्हें अपना बनाया है !

न तुमको देख पाये हैं कभी ना जान पाया है !!


लिखें जो खत तुझे कोई कभी भी तुम नहीं पढ़ते !

रहा करते हो एक्टिव तुम कोई भी खत नहीं लिखते !!


बना वर्जित तुम्हारा सब कहाँ लिखें बताओ तुम !

अगर सुनना नहीं है तो कोई रस्ता दिखाओ तुम !!


विचारों का मिलन ना हो तो फिर हम रह नहीं सकते !

बने अनजान जीवन भर  डगर पर चल नहीं सकते !!



Rate this content
Log in