Participate in the 3rd Season of STORYMIRROR SCHOOLS WRITING COMPETITION - the BIGGEST Writing Competition in India for School Students & Teachers and win a 2N/3D holiday trip from Club Mahindra
Participate in the 3rd Season of STORYMIRROR SCHOOLS WRITING COMPETITION - the BIGGEST Writing Competition in India for School Students & Teachers and win a 2N/3D holiday trip from Club Mahindra

Bhawna Kukreti

Romance fantasy


4.5  

Bhawna Kukreti

Romance fantasy


ख्वाब और ख़्याल

ख्वाब और ख़्याल

1 min 247 1 min 247

लोग बेहाल दिखते हैं

मोहब्बतें याद करते है

क्यों बेहाल होना ? 

ख्वाब और ख्याल है न !


कोई ख्याल करे न करे 

इश्क़ सबाब करे न करे

क्यों गमख़्वारी करना

ख्वाब और ख्याल है न ! 


संभलता बिखर जाए

दिल दर्द से भर जाए

क्यों शिकायत करना

ख्वाब और ख्याल है न !


कैफियत भी गुलाब है

तरबियत भी गुलाब है

क्यों बेवक्त मुर्झाना

ख्वाब और ख्याल है न ! 


Rate this content
Log in

More hindi poem from Bhawna Kukreti

Similar hindi poem from Romance