Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Shambhunath Vishwakarma

  Literary Captain

पहल की पहल

Drama Romance

इसलिए इंतज़ार कर रही हूँ ताकि पहल आपसे हो जाए...!

1    1.2K 4

सच्चा प्यार

Drama

जिसके लिए दोस्तों को दुश्मन मान बैठे थे...!

1    46 6

ग़रीबी की आदत

Drama

इसलिए आदतन शब्दों को भी गिन कर खर्च करता हूँ...!

1    1.3K 5

मैं खुश था

Drama

पर उस एक पल में बीते कई सालों को फिर से जीकर मैं खुश था...!

1    13.9K 6

ठेले पर बगीचा

Drama

ठेले पर बगीचा लिया, घूम रहा हूँ...!

1    1.2K 2

स्वेद

Drama Inspirational

स्वेद को ही मिला सदा, विजयश्री का प्रणाम है ।

1    13.0K 6

कैसे लिख दूँ

Drama Tragedy

जब तख्त की ज़ुबाँ बोलनेे लगे अखबार, तो कैसे लिख दूँ कि कलम की ताकत अभी ज़िंदा है...।

1    20.7K 36

ख़रीदी

Drama

आज वीराने दिल को बागबान करने निकला हूँ...

1    7.0K 9

रक्षासूत्र और ताबीज़

Crime Drama Tragedy

दोनों के दिल, रक्षासूत्र और ताबीज़ सब राज़ी थे, पर उन्हें देने वाले द्वेष और द्रोह के पुजारी थे !

1    13.6K 10