Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



mona kapoor  

एक माँ होने के साथ साथ मै एक लेखिका भी हूं😊अपने मन में भावों को कलम के जरिए उतार कर आप सभी तक पहुंचाने का शौक़ रखती हूं😊।मुझे सुनने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक कीजिए। https://www.youtube.com/channel/UCwu-H6x2eyhkYgO35hjUsBw read more


क़ैदमुक्त

Others

इस रिश्ते को निभाने की आड़ में छुपी समीर की बेबसी आरती को दिखाई देती थी वो समझती थी कि समीर का अपना खुद का भी जीवन है,



3    202 0

झूठी इज़्जत

Drama

जैसे ही फोन रखने के बाद ठाकुर जी की नजर बाथरूम के पास सीधी खड़ी झाड़ू पर पड़ी उनका गुस्सा सातवें आसमान पर पुहंच गया



2    24 0

बदलाव

Inspirational

यह सारी बातें सुनकर मिसेज शर्मा जी की आँखे शर्म से झुक गयी।



3    66 11

स्टेटस

Inspirational

सौम्या की बातें सुनकर आशा जी के पास आगे बोलने के लिए कुछ नहीं था।



2    44 1

संघर्ष

Tragedy

खुद का खुद की साँसों से जिसे उन्हें अकेले ही लड़ना था।



3    158 33

मन की डोर

Drama

बड़े ही सम्मान से उसके दिल के बेहद करीबी रिश्ते से बंधी मन से मन की डोर को गांठ बांध कर जीवन भर के लिए मजबूत कर दिया था।



4    242 14

यादें

Tragedy

अपनी दादी की साड़ी का पल्लू खींचकर बस यही बोल रहा था कि “देखो ना दादी मेरा एरोप्लेन आसमान तक क्यों नहीं उड़ता जैसे मेरे पापा उड़ाते थे।”



2    4 0

छोटी सोच

Inspirational

प्रवीन जी की बातें सुनकर रमा जी की आंखें शर्म से झुक गयी व जुबान बंद हो गई क्योंकि अब शायद व्यग्यं करने के लिए कुछ शेष न था।



3    43 7

टूटती बेड़िया

Inspirational

रजत की बातें सुनकर प्रीति की आंखों में से आंसू छलकने लगे मानों पुरानी प्रीति वापिस लौट रही हो।



4    374 45

जननी बनती शक्ति

Drama

रीना की यह बात सुनकर कमरे में सन्नाटा पसर गया।



2    192 18

जीवन का यही है रंग रूप

Abstract

गरीबी उसपर जीवनसाथी की बिमारी ,बुढ़ापे में टूटे चप्पल पहने बाबा टूटी ज़िन्दगी को घसीट रहें थे ,लेकिन खुदारी से। ..



3    277 49

जो तन लागे सो तन जाने

Drama Tragedy

शादी में मिले धोख़े को सहना सबसे दुष्कर कार्य ,अपने प्रिय की मृत्यु से भी ज्यादा दुखद। .....



3    75 8

सब्जी में नमक ज़रा कम है

Abstract Drama

रिश्तों में शिकायत भी जरूरी नमक बराबर ही सही ,अपनापन बना रहता



3    25 1

दो दिलों की दास्तान

Drama

यादें सुखद हो तो याद करके सुकून मिलता है और मुस्कान भी बनी रहती चेहरे पे हमेशा



7    138 13

इकलौती संतान

Abstract

माँ अपने बच्चे की हर बात समझत और उसे समझा लेती है जब वो बच्चा किसी को न समझा पाए तब भी ,मानसिक रूप से कमजोर बच्चा भी उतना ही प्यारा होता अपनी माँ के लिए ,जितने हम और आप



6    128 11

माँ की शान बनती बेटियां

Inspirational

“बेहतर होगा कि आप उनके आने से पहले चले जाए क्योंकि जिस पिता को वो मरा हुआ समझ कर उनकी पूजा करती है जब उसकी सच्चाई पता चलेगी



2    328 53

कड़ा फैसला

Drama

आज चंपा की यह सारी बातें सुनकर अम्मा निःशब्द सी रह गयी शायद चंपा के साथ की उसके द्वारा की गई नाइंसाफी को समझने की कोशिश कर रह



3    266 20

उड़ान

Inspirational

घर में खुशहाली का माहौल बन गया।



3    449 15

अग्निपरीक्षा

Tragedy

अपना पत्नी धर्म निभाती हुई सोनिया के कमला की बातें सुनक रआज फिर से ज़ख्म उभर गए थे।



3    159 16

पवित्र रिश्ता

Inspirational

इस पवित्र रिश्ते को और मजबूती, प्यार व सम्मान के साथ सींचा हुआ महसूस कर रही थी।



3    281 45

घिन

Drama Inspirational

यह सारी बात जान निःशब्द सी खड़ी रूचि को अपनी छोटी सोच के कारण खुद से घिन हो रही थीं।



3    234 10

मोह जाल

Others Tragedy

रमा जी भी धीरे धीरे निधि का लंच पैक करके अपना और आयुष का नाश्ता बना कर खाने के लिए डाइनिंग टेबल पर बैठी ही थी



3    335 38

जुगनी

Drama Tragedy

आज गुंजा में अपना अतीत दिखाई दे गया था कि कैसे चालीस साल पहले जुगनी बाल विवाह के जाल में फंसकर ,,,,,,



3    445 40

मौनी पायल

Drama Inspirational Tragedy

अब मौनी पायल बनकर सदैव उसे रोहित के आसपास होने का एहसास दिलाती रहेगी व सदैव रोहित को उसमें ज़िंदा रखेगी।



3    346 10

चिट्ठी ना कोई संदेश

Tragedy

रोहित द्वारा उपहार में लाई हुई लाल रंग की साड़ी को पाकर टीना खुद को रोहित की सुहागन ही समझती है



4    356 17

लकड़ी की चौकी

Drama Others

आजा.. मेरी बच्ची..कितने दिनों बाद आई है हमसे मिलने ..अब कुछ दिन रहे बिना जाने नही दूँगी तुझे वापिस ससुराल



3    686 29

भाग्य ग्रहण

Inspirational Tragedy

उसकी इस ज़िद के आगे भी उसके माता पिता को घुटने टेकने पड़े थे व आरोही को नौकरी करने की रजामंदी दे चुके थे



9    2.2K 9

अकेलापन...साथ सिर्फ यादों का

Drama Tragedy

अब तो उनकी आँखें थक चुकी थी किसी अपने की राह तकते, भगवान के द्वारा भी बाबूजी को उनके पास बुला लेने की अर्जी नामंजूर हो रहीथी



4    7.7K 11

राक्षसी पिता

Inspirational

दादी को यँ लगा कि मन में बिना कोई मलाल रखे आज उन्होंने सोना की माँ की मौत का बदला लेकर उसे इंसाफ दिलवा दिया था।



3    2.3K 16

जब अपना ही खून गलत हो भाग -2

Inspirational

सौम्या का लेटर पढ़ अमित की आँखों से आँसू निकल पड़े अपनी रिपोर्ट को देखा तो उसके पैरों तले ज़मीन ही खिसक गई मानो



4    5.6K 9

जब अपना ही खून गलत हो भाग -1

Drama

उसके इस फैसले ने उसकी माँ को अमित के खिलाफ जाकर रागिनी का साथ देने के लिए मजबूर कर दिया था।



3    7.4K 15

तेरा साथ है कितना प्यारा

Drama Romance

पति-पत्नी के अटूट प्रेम को दर्शाती एक अनोखी कहानी...



4    1.6K 15

माँ, अगर उसकी जगह मैं होती तो?

Crime Drama Tragedy

वो समझ गई थी कि केवल सोचने भर से उसकी रूह कांप गयी, तो सोनिया की माँ का उनकी बेटी को ऐसे देख क्या हाल हुआ होगा...!



4    1.9K 17