Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Anandbala Sharma

सेवा निवृत शिक्षिका अध्ययन एवं साहित्य सृजन में निमग्न

  Literary Captain

क्षणिकाएँ

Abstract

विद्या के मन्दिरों में, देवी सरस्वती के साथ निवास करती है चंचला।

1    244 17

कारगिल

Others

पर उस दिन जब एक सात साल की बच्ची ने कहा भावभीने शब्दों में न मनाऊँगी अपना जन्मदिन कारगिल में ह...

1    312 17

आहत मन

Tragedy

मन बहुत आहत होता है, जब मैं देखती हूँ हिमालय पर जमी स्फटिक शिला सी बर्फ पिघल कर सड़क

1    84 0

आकलन

Others

हिसाब मांगू उस समय का जो बीत गया अर्थहीन व्यस्तता में, बिता सकती थी मैं उसे सुनने में

1    58 1

राम की व्यथा

Classics

काश मैं राजा न होता

1    201 2

सुवधू की तलाश

Others

महफिलों की जान थे शांति के कायल थे अत: गृह विभाग में दखल न देते थे

1    184 1

पुकार

Inspirational

तुम्हारा दुख केवल एक ही है अपने अस्तित्व के संकट का दुख

1    188 1

सुवधु की तलाश

Abstract Comedy

सबके सब उसमें थे क्योंकि कन्या गूंगी भी थी।

1    273 0

हाइकु

Inspirational

आप जैसे सपने देखते है, जैसा कामकरते है, वैसी आपकी उडान होती है... बौनी या ऊॅंची...!!!

1    263 42

कविता बनाम बेटी

Abstract

खो गईं यादों के झरोखो में

1    331 48

पछतावा

Inspirational

मम्मी ने कहा-यह अच्छी बात है कि तुम खुद ही समझ गए।

1    145 1

जीवन मेरा

Tragedy

जीवन मेरा पति के बटुए जैसा खोने का डर बना ही रहता।

1    225 35

जीवनसाथी

Drama

दिखा चाँद में सुन्दर रूप तुम्हारा बसा मन में।

1    285 25

धोखे में प्यार

Tragedy

पता नहीं वह प्यार में धोखा था या धोखे में प्यार।

1    76 3

बाल मजदूरी

Tragedy

नहीं देते हैं तो निवाला छीनते हैं।

1    364 50

बस ऐसे ही

Drama

यूँ ही सी जिंदगी अब लगने लगी सुहानी सी।

1    313 35

आखिरी खत

Abstract

पर जैसे खिंची चली जा रही हूँ मैं किसी ओर लगातार धीरे-धीरे

1    81 4

हाइकु

Others

क्या कहें हम अनकहे रिश्ते को पूर्णावतार

1    72 1

रिश्ते

Abstract

टूट जाएँ सभी रिश्ते न टूटे रिश्ता मानवता का।

1    138 14

कमल

Abstract

'अहा,कितने कमल हैं उसके अंक में धन्य है वह-- सचमुच, धन्य है वह!'

1    158 1

प्रार्थना

Others

अपने हिस्से की धरती अपने हिस्से का गगन।

1    214 8

सपने

Classics

बिखरने से बचाने के लिए और फिर देखिए सपनों को पूरा होते हुए।

1    171 1

कन्यादान

Abstract

अन्धेरी गुफा न बन जाए कहीं साबित न हो शेर की मांद रिश्तों पर हावी न हो जाए

1    262 3

हिन्दी

Inspirational

हिन्दी अपने देश की भाषा हिन्दी अपने देश की आशा

1    57 1

बस ऐसे ही

Others Inspirational

हर रंग में रंगी हर ढंग में ढली हर मोड़ पर मुड़ी हर राह पर चली सोपान तो बनी, मंज़िल न ब...

1    261 12

बस एक बार

Others

बस एक बार फिर दस्तक दूँ मन के द्वार पर खुल जाएँ कपाट मन के

1    62 3

बदलाव

Others

देर रात तक जगते हैं सोते हैं कम है जमाना फास्टफूड का पचता है कम योजनाएँ अधिक हैं पूरी होती हैं...

1    284 4

देन

Inspirational

शायद इन दर्दों के गर्भ से ही निकल जाए कोई स्रोत आनंद का

1    129 3

नया सूरज

Drama

आओ रचें हम आशंकाओं से परे एक निर्भीक संसार।

1    319 6

महानगर

Drama

लगा जैसे मैं और भी बौनी हो गई हूँ।

1    6.7K 10