Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Santosh Srivastava

  Literary Brigadier

बैराग के खाते में

Others

बैराग के खाते में

13    15.3K 14

सब तरफ़ आग है लगी हुई

Others

सब तरफ़ आग है लगी हुई...

17    13.7K 14

मृग-मरीचिका

Others

मृग-मरीचिका

17    14.2K 18

कठघरे से बाहर

Others

कठघरे से बाहर

10    14.6K 14

चित्रों की ज़ुबान

Others

चित्रों की ज़ुबान

15    13.9K 10

यहाँ सपने बिकते हैं

Others

आख़िर धर्म से तो उनकी विवाहिता हूँ। वे धर्म नहीं निभा पाये यह बात दीगर है। कुमार साहब अब भी मेरे लिय...

24    21.0K 12

आतिशे-संग

Others

आतिशे-संग

18    13.8K 17

श्रीलंका, जहाँ रावण मुखौटों में ज़िन्दा है

Others

देवदार, चीड़ के लम्बे दरख़्तों की घनी छाँव में से सूरज की किरणें हीरे जैसी चमक रही थीं। ठंडी हवाओं मे...

28    13.8K 16

मेरे होने का अर्थ

Others

अब इस सख़्त, बंजर धरती पर खुशी का एक फूल भी कभी नहीं खिलता। बचपन में खंडहर डराते थे, अब इस खंडहर घर ...

17    7.5K 21

तुम हो तो.....

Others

तभी एक चुलबुली लहर ने दोनों के पैर भिगो दिऐ और लौटकर समंदर के सीने में समा गई। मीरा के चेहरे पर आई ...

19    21.0K 16

अंकुश की बेटियाँ

Others

अंकुश की बेटियाँ

15    13.6K 14

अमलतास तुम फूले क्यों ?

Others

अमलतास तुम फूले क्यों

17    13.9K 20

सब तरफ़ आग है लगी हुई

Others

सब तरफ़ आग है लगी हुई 

17    13.7K 14

गूँगी

Others

वसुंधरा सन्न रह गई। उन्हें हथेली की वह अदृश्य इबारत तीर सी भेदती चली गई। वे एकटक गूँगी महुआ को देखत...

22    13.9K 17

आसमानी आँखों का मौसम

Others

सरकते दिनों में तुम्हारे बग़ैर मैं खुद को छीजती रही..... अकेलापन, तनहाई, उदास शामों के बेतरतीब सिलसि...

25    14.7K 12

उस पार प्रिये तुम हो

Others

उस पार प्रिये तुम हो 

21    14.7K 20

शहीद खुर्शीद बी

Inspirational Others

शहीद खुर्शीद बी

16    759 25

शहतूत पक गये हैं!

Inspirational Others

शहतूत पक गये हैं!

14    20.8K 14

फरिश्ता

Inspirational Others

स्निग्ध छुअन तो नहीं... अचानक वह तड़प कर परे हट गई | रजनीश एक ओर हाँफता खड़ा था | संपूर्ण मानवता को प्...

15    6.9K 5

एक और कारगिल

Inspirational Others

मेरे अंदर छन्न से कुछ टूट गया| टूट कर किर्च-किर्च बिखर गया| महसूस हुआ जैसे वे सारी की सारी किर्चें उ...

15    14.1K 14

अपना-अपना नर्क

Inspirational Others

और उस जगह रखे हवन कुंड में, घेरा बनाकर बैठे तमाम रिश्तेदार...

18    13.9K 10

अजुध्या की लपटें

Inspirational Others

मैं भीतर ही भीतर अपने अंदर फैले सन्नाटे से घुट रही थी| तमाम नाते रिश्ते छूट चुके थे| ‘पीली कोठी’ ख्व...

8    7.6K 21