Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Vijayanand Singh

  Literary Colonel

रौशनी

Inspirational

आँगन रोशन हो गया था। अँधेरा छँट चुका था, और वे बड़े सुकून से मनोहर की गाड़ी में अपनी बेटी के घर की ओ...

4    270 1

भटकती नदी

Drama

प्रेम और अपनत्व ने मानो एक भटकती नदी को रास्ता दिखा दिया था।

4    19 0

मदारी

Drama

अँधेरा छँटने लगा था और, दूर क्षितिज से उजाला दस्तक दे रहा था।

3    273 4

श्रमेव जयते

Inspirational

सभी मजदूरों के नाम अंकित थे, जिन्होंने उस पुल के निर्माण में अपना श्रम, रक्त और पसीना बहाया था।

2    97 2

दूरदृष्टि

Drama

बस, सभी सत्ता की मलाई खाने में लगे रहे। जनता को जवाब तो मुझे देना पड़ता था ? गाली मैं सुनता था ? मैं ...

3    367 45

आखिरी मुलाकात

Drama

वे सदा मेरे साथ हैं - मेरी स्मृतियों में ! मेरे कर्मों में !

4    521 20

श्रमेव जयते

Inspirational

उस्मान, शंकर, बैजू, गोपाल आदि उन सभी मजदूरों के नाम अंकित थे, जिन्होंने उस पुल के निर्माण में अपना श...

2    3.4K 9

पहला प्यार

Romance

"हाँ, हमारी बेटी इतनी ही बड़ी होती, अगर हम जाति-धर्म के संकीर्ण सामाजिक-रूढ़िवादी बंधनों को तोड़ पाते त...

2    7.3K 12

बरसों___बरस ! प्रेम !

Romance

"कोई नहीं है मेरे साथ---।अविनाश हमसे बहुत दूर चला गया है--शादी के एक वर्ष बाद - एक कार एक्सीडेंट में...

8    14.6K 28

यादों का झोंका

Others

अंतहीन यादों के झोंकों से शरीर में स्पंदन-सा महसूस हुआ उसे। रोम-रोम अहसास से भर उठा,जी उठा।

2    7.9K 18