Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Vaishno Khatri

विशेष उपलब्धि या सम्मान :- काव्य रंगोली साहित्य भूषण सम्मान 2018, सहभागिता सम्मान 2018, राष्ट्रीय कवि चौपाल, रामेश्वर दयाल दुबे साहित्य सम्मान 2019, राष्ट्रीय कवि चौपाल स्टार हिन्दी श्रेष्ठ सृजनकार सम्मान। मार्च 2019, अखिल भारतीय साहित्य परिषद् विराटनगर, साहित्य सम्राज्ञी सम्मान मार्च 2019 लेखन विधाएँ :- कविता एवं साहित्य। प्रकाशित कृतियाँ :-विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में दूसरा आने वाला है रचनाएँ प्रकाशित। एक काव्य संग्रह 'अनछुई पंखुड़ियाँ' प्रकाशित हो चुका है। read more

  Literary Colonel

भारत-दर्पण

Inspirational

कच्चा कुआँ मीठा पानी, तन-मन तृप्त कर देता है। ताज़ी सब्जी और अन्न, शरीर स्वस्थ कर देता है।

1    20 0

स्मृति

Abstract

तुम हो जाओ कान्हा सी चंचल मैं भी राधा जैसा बन जाऊँगा संग-संग चलूँगा संग ही नाचूँगा

1    216 1

स्मृति

Others

तुम हो जाओ कान्हा से चंचल मैं भी राधा जैसी बन जाऊँगी

1    193 0

मानव की असीम शक्तियाँ

Abstract Drama

तुम कीर्तिमान बना कर सब को आश्चर्यचकित करना।

2    80 1

अभिव्यक्ति

Abstract

पहले में दे कुर्बानी हँसते हँसते शीश कटाती हूँ अनजाने में ही सब को यह पाठ पढ़ा जाती हूँ।

1    23 0

सपनों की दुनिया

Others

उन रातों की जिन्होंने अंधियारे में भी कदम बढ़ाने की प्रेरणा दी है

1    24 0

जनक-जननी और जाया

Classics

ऊँगली थाम नेह से तुमको जनक ने चलना सिखलाया।

1    28 0

मृग तृष्णा

Drama

इस माया के जंजाल से निज़ात पाकर मृगतृष्णा से।

1    5 0

चुनाव का परिणाम

Others

कितना अपमान होगा अब कभी सम्भल नहीं पाएँगे, चलो कोई बात नहीं धौंस जमाएँगे अपनी बात मनवाएँगे।

1    26 0

भागती सी ज़िन्दगी

Drama

बढ़ती इच्छाओं की आपूर्ति से वह हो जाता हताश।

1    49 0

विडम्बना

Others

मैं मरने से नहीं डरती परन्तु दूसरों की मौत से डर लगता है, मैं इसे अपना साहस मानू...

1    2 0

शहीद

Inspirational

जान को रखकर हथेली पर कैसे जंग में कूद जाते हो। परिवार का न रख ख्याल हँसते-हँसते बलि चढ़ जाते हो।

1    44 0

शिक्षक

Others

यदि शिक्षक समाज के नवनिर्माण में अपना समय लगाएगा। तो आशा और नवचेतना से राष्ट्र का पूरा ढा...

1    179 48

घर और परिवार

Others

कँगूरा बदलता रहता है, लेकिन नींव और दीवार, अक्सर नहीं बदलते हैं।

1    36 0

होस्टल और परिवार

Tragedy

बच्चे रहते हैं होस्टल में दोनों ऐसा कौन-सा फ़र्ज़ निभाते हैं ज़िन्दा माँ-बाप अपने सुख की ख़ातिर यत...

1    34 1

मंजिल की चाह

Inspirational

लक्ष्य की ओर अपना सकल ध्यान लगाना होगा।

1    153 44

जन्म दात्री

Abstract

अपार हो सुख खुदा करे करम हे जन्म दात्री तुझे मेरा नमन

1    154 1

ये बच्चे

Inspirational

यदि ईमानदारी आदि गुणों का हो समावेश तो विश्व-अग्रणी होगा मेरा प्यारा भारत देश

1    3 0

प्रकृति को सहेजें

Inspirational

हस्त उठा आकाश में वे करते दुआ संसार भी जानता है।

1    298 6

प्रकृति को सहेजो

Drama

हस्त उठा आकाश में वे करते दुआ संसार भी जानता है।

1    92 2