Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Ratna Pandey

रत्ना पांडे बड़ौदा गुजरात की रहने वाली हैं । इनकी रचनाओं में समाज का हर रूप देखने को मिलता है। समाज में हो रही घटनाओं का यह जीता जागता चित्रण करती हैं। "दर्पण -एक उड़ान कविता की" इनका पहला स्वरचित एकल काव्य संग्रह है। इस काव्य संग्रह की एक एक रचना समाज की तरफ़ हमारा ध्यान आकर्षित करती है। इसके अतिरिक्त बहुत से सांझा काव्य संग्रह जैसे "नवांकुर", "ख़्वाब के शज़र" , "नारी एक सोच" तथा "मंजुल" में भी इनका नाम जुड़ा है। देश के विभिन्न कोनों से प्रकाशित होने वाले समाचार पत्र और पत्रिकाओं में इनकी रचनाएं नियमित रूप से प्रकाशित होती रहती हैं। read more

  Literary Brigadier

नहीं सुरक्षित आज है बचपन

Abstract

नहीं पता उसे दुनिया के वह रंग, कितने हैं भदरंग, जो निर्ममता से बेरंग कर देते हैं बचपन

1    315 24

राम को ढूंढें कैसे

Abstract

किन्तु बुराई रूपी रावण, अच्छाई को हर रोज़ ही जलाते हैं।

1    128 14

साथी हाथ बढ़ाना

Abstract Children Stories

गाँधी बापू का था यह सपना, बना ना सके जिसे अभी तक हम अपना।।।

2    27 0

चक्षु दान

Inspirational

दुआएँ लेने का सौभाग्य प्राप्त करें, एक महादान करें, नेत्र दान करें।

1    144 24

धरती

Abstract

हरी भरी बगिया से सुसज्जित धरा को बनाना है।

1    8 0

एक मजदूर और दो वक़्त की रोटी

Tragedy

अपना कर्तव्य कैसे निभाऊंगा और माँ के दूध का क़र्ज़ कैसे चुकाऊंगा।

1    280 27

परिवार

Tragedy

माँ की ममता को चार धाम का सुख, घर में ही मानो मिल जाता,

2    261 12

कच्चे मकान वाले

Others

यदि यह कच्चे मकान वाले ना होते तो तुम भी शायद ऐसे ही किसी कच्चे मकान में रह रहे होते

1    334 2

रिश्ता बेटी का

Classics

प्यार, त्याग और बलिदान की, मूरत वह कहलाती है, बेटी तो बेटी होती है घर को स्वर्ग बनाती...

1    230 43

कर्म

Classics Abstract

इसीलिए नेकी कर और कुएँ में डाल ही आज की सच्चाई है, जिसने इसे अपना लिया, उसने चिंता मुक्त ज़िंदगी प...

1    321 25

श्रम पुत्र

Inspirational

मैं हर तन में वास करता हूँ, कोई मुझे जन्म देकर बहाता है, कोई अंदर ही सुखाता है, यदि हर इंस...

1    186 33

श्रम पुत्र

Inspirational

मुझे जन्म देना हर किसी के बस की बात नहीं जिसने भी मुझे जन्म दिया उसका जीवन संवर गया

1    8 0

दर्द इतना दे गये तुम

Romance

उठाता हूँ जब भी हाथ में प्याला, कि सब कुछ भूल जाऊँ मैं, तुम्हारी यादों से जुदा हो पाऊँ मैं, ...

2    280 3

अधूरी ख्वाहिश

Others

कुछ तो पढ़ कर भूल गये, कुछ अजनबी सी तलाश में जुट गये, कुछ शर्म के मारे डूब गये और कुछ आईने ...

2    347 3

नारी की चाहत

Inspirational

कोई पति बन शासन चलाता है, कोई भाई बन हुक्म चलाता है, कोई जन्म लेते से मृत्युलोक पहुँचाता है, ...

1    314 4

मदिरा

Inspirational

पछताता आंसू है बहाता क्यों हाथ उसका लिया था थाम, माता पिता की बात जो सुनता बन जाते सब बिगड़े काम,

2    255 3

बेटे का दर्द

Classics

अपने घर से अपने कंधों पर प्यार और सम्मान सहित विदा करना होगा।

2    299 3

बिखर गई माला

Tragedy

टूट गई फ़िर माला उसकी सारे मोती बिखर गए, इधर गिरा कोई उधर गिरा, जाने सब किधर गए,

1    99 4

कड़वा सच

Tragedy

गरीबी का हाल बुरा, बच्चा भूखा पर भोजन नहीं, रहने को घर नहीं और कहीं सबकुछ है पर भूख नहीं

1    283 5

चिट्ठी

Tragedy

कागज़ की पाती हूं फ़िर भी कई परिवारों को मैंने पाला, उन परिवारों की ख़ुशियों को क्यों तुमने यूं क...

1    26 2

उलझन

Inspirational

लपेट प्यार की डोरी, जीवन की पतंग उड़ा लेना, कहा सुना सब माफ़ करना, दिल का मैल साफ़ करना,

1    295 1

उम्मीद का दामन थाम ले तू

Inspirational

उम्मीद का दामन थाम ले तू, सबल विचारों में स्वयं को बांध ले तू।

1    82 5

गुमराह

Inspirational

देश के भविष्य को हर हाल में नशे से मुक्त करना है।

1    62 2

कन्यादान

Classics

याद रखो स्तम्भों के बिना तो तुम, बेघर ही रह जाओगे।

3    78 4

शब्दों की उड़ान

Abstract

शब्दों को बोलो किन्तु देश के मान की आन रखो।

1    17 2

पत्नी

Romance

प्यार भरी नज़रों से देखो, तुम्हें घर में ही मिल जायेगा।

1    210 5

नाले की पुकार

Abstract Tragedy Inspirational

नहीं बदल सकता तक़दीर मैं अपनी, यही लिखाकर आया हूँ...

2    206 3

अपना अमूल्य वोट

Abstract

जो सिर्फ़ देश के हित में काम करे, हमें उसे ही जीताना है, वक़्त रहते संभल जाओ, देश हित में जाकर बट...

2    185 4

छोड़ दूंगी वह गली

Inspirational

नारी हूँ नहीं कमज़ोर मैं इतनी कि, अपने अंश को मैं ना पाल पाऊँ, देकर जनम अपने संस्कारों से, मैं उसे...

1    110 3

ज़िंदगी के सफर का आगाज़ और अंजाम

Inspirational

मिला है अवसर तो हँसकर मुस्कुराकर, अपनों का साथ निभाकर इस सफर को तय कर लो, कल हो ना हो आज जी भर हँस...

2    331 29

तारीख़

Drama Tragedy

कभी तो ऐसा वक़्त आयेगा, जब मेरा हर एक पन्ना खुशियों से भरा, स्वर्णिम अक्षरों से लिखा ज...

2    206 4

ढ़लता सूरज

Others

किंतु जब मैं ढलता हूँ, मुझे कोई नमन नहीं करता है, थके हुये मेरे तन को, कोई आर्ध्य नहीं देता,

1    147 5

गाँव हमारे वापस दो

Inspirational

छोटे गाँव में हम बसते हैं किन्तु, संग साथ सब को लेकर चलते हैं, एकाकी जीवन तुम्हारा कितना नीरस लगता...

1    122 3

दस्तक

Tragedy

लेकिन अब कोई आवाज़ नहीं होती, दस्तक मेरे द्वार पर अब नहीं होती।

1    213 7

चुप्पी तोड़ फिर बेटी बोली

Inspirational

जिस माटी से बेटे बने, उसी से मेरा भी तो जन्म हुआ, कमी कोई ना होने दूंगी, जन्म तुमने जो मुझे दिया।

1    181 4

जवान बेवा

Drama Tragedy

आत्मा हवस की धधकती चिताओं में सती हो जाती है।

2    113 3

संध्या की जलन

Drama

तुम गलत सोचती हो संध्या, कोई सूर्य से नहीं डरता, मैं स्वर्णिम रोशनी देती हूँ, स्वर्णपुरी में रहती...

2    483 13

एक सैनिक की अंतिम इच्छा

Inspirational

है यह एक सैनिक की अंतिम इच्छा, कि मेरे वंश के ख़ून का हर एक क़तरा हो न्यौछावर मातृभूमि सिर्फ़ तेरे ...

2    215 3

एक नए युग की शुरुआत करो

Inspirational

नहीं केवल पुरुष ही, नारी भी तो कमांडो बनती हैं, निज सुरक्षा क्या चीज है, दूसरों की रक्षा भी करती है...

1    2.2K 7

दुर्घटना

Drama

थोड़ी सावधानी गर, हर इंसान जो रख पाएगा, सच पूछो तो दुर्घटनाओं की, घटना अवश्य कम हो जाए...

1    212 5

वो मेरा आखिरी दिन

Drama

माता पिता ने नए लोगों से मिलना सिखाया। पर लोगों की उस भीड़ को परखना आपने सिखाया।

2    591 5

बेटी को बेटी ही रहने दो

Inspirational

फिर तुम्हें भी ख़ुशियों की चाबी मिल जाएगी, जब बेटी, बेटी ही कहलाएगी, जब बेटी, बेटी ही रह पाएगी ।

2    335 8

पुष्प की चाह

Inspirational

किसी शहीद की समाधि को स्पर्श जो मैं कर पाऊं देश भक्ति से ओत प्रोत मैं हो जाऊं मैं भी शहीद कहलाऊं ,...

1    6.8K 13

न्याय की देवी

Drama Tragedy

अपनी आँखों से पट्टी उतार तो ज़रा तेरी आँखों के पीछे ये गुनाह होते हैं

2    6.5K 9

नारी शक्ति

Inspirational

आदि शक्ति दुर्गा का एक रूप है नारी ,इसे काली के रौद्र रूप में आने को विवश न करो। .....

1    6.7K 6

भ्रूण हत्या

Drama Tragedy

जिन्हें बेटी नहीं चाहिये, उन्हें बेटा भी मत देना। जब ऐसे पापियों के वंश का अंत होगा, तभी बेटे ...

1    6.6K 8

हमारा किसान

Tragedy

तभी यह देश खुशहाल होगा, जब हर किसान यहाँ बराबरी का हकदार होगा।

1    6.7K 15

फ़िर वह लौट ना सका

Drama Tragedy

नहीं माँगा आज तक कुछ भी मुझसे उन्होंने सब कुछ वार दिया मुझ पर बिना माँगे उन्होंने

2    6.7K 10

चाँद और सूरज का दर्द

Drama Tragedy

कहीं था चीरहरण, कहीं भाई भाई का झगड़ा था, कहीं चोरी डकैती थी और कहीं लाल रंग गहरा था।

2    13.6K 10

अंतिम विदाई

Drama Tragedy

अपनी अर्थी अपने घर से निकलवाना चाहती हूँ, कंधे पर तुम्हारे जाना चाहती हूँ।

2    6.6K 6

बदलते रिश्ते

Drama Tragedy

चली थी जब तुम्हारे संग, सब रंगीन लगता था, जब तक साथ में थे तुम, सब हसीन लगता था।

2    7.3K 9

पतझड़

Inspirational

फूटेंगी फिर नई कोपलें है यही उम्मीद पतझड़ भी एक मौसम होगा देगा नई सीख

1    6.6K 5

दो परिवारों की व्यथा

देखकर चेहरा स्तब्ध रह गए सब, मौत देने वाले दम्पत्ति बेहोश हो गए तब ।

2    7.5K 8

वृक्ष की पुकार

Horror

हे मानव, माँग रहा उधार मैं अपना वापस मुझे लौटा दो करके कोई जतन हमें इन खूनियों से बचा लो ।

1    14.7K 14

मत करो बर्बाद देश की जवानी को

Drama Tragedy

फलों का सेवन दिलों को खूब भाता था जूठे बेर खाकर शबरी का राम का मन फूला ना समाता था ।

1    7.1K 9

बंदिशें

Drama

जिस घर में आई हूँ, उसे भी मैं संवार पाऊँ, मत लगाओ पाबंदियाँ, ताकि मैं भी स्वतंत्र रह पाऊँ...!

2    13.7K 12

भूख से मौत तक

Drama Tragedy

विदा होऊं जब इस जहाँ से मैं फूलों के बदले मेरी अर्थी पर, एक रोटी सजा देना।

2    13.7K 6

आँसू

Drama

वेदना और वियोग में खोया, बादल सा फट गिरता हूँ। जी हाँ मैं आँसू हूँ हाँ जी मैं आँसू हूँ...!

1    15.4K 9