Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Asmita prashant Pushpanjali  

Writer , poet


I Want To My Life

Others

I do not have any social system here. But is the judiciary positive for me?



1    107 5

Justify Our Relation

Others

It Doesn't matter Who are you It Doesn't matter Who I am



1    50 2

Life Is Beautiful

Drama Romance

Life is beautiful when you hold my hand !



1    7.2K 6

Life's Meaning

Others

Many people live together But they feel alone



1    1.2K 8

यतीमखाना

Others

रोटी कपड़ा और मकान की जरूरत पूछ लेना, उस यतीम से



1    209 0

वक्त

Classics

हर चीज है कठपुतली, वक्त के हाथ नाच रही...



1    24 0

ये कैसा दिल है माँ तुने पाया

Abstract

ये कैसा दिल है माँ तुने पाया।



1    1 0

दिल

Romance

दिल बडा कातिल है तड़पाये तुम्हारे बगैर तरसाये तुम्हारे बगैर।



1    21 0

धुआँ धुआँ है जिंदगी

Drama

धुआँ धुआँ है जिंदगी खौफ से डरी डरी।



1    21 0

हाँ, हक है हमें

Abstract

जिंदगी के कैनवास के कई रंग पर गिर कर बिखर गये जो इसके रंग तो हक है हमे नये रंग भरने का जिंदगी की चित्रकारी रंगीन करने का



1    22 0

बस इतनी तमन्ना

Romance

मैं सोचूँ हर घड़ी हर पल, क्यूँ चाहूँ तुझे इतना मैं पल पल...



1    26 1

तुम ही तुम हो

Romance

डुबी रहूँ चारों पहर तेरी यादों में, मेरे सपनों की रहनुमाई सिर्फ तुम ही तुम हो...



1    4 0

ये कैसा रिश्ता है।

Romance

यै कैसे जज्बात है ये कैसे एहसास है जो ईक साथ ही दो दिल मे पनपते है।



1    1 0

तुम बिन सूना सूना मोरा अँगना।

Romance

बाँहों में तेरी लेनी है हर साँस साथ पल भर छूट न जाये कहीं।



1    23 1

जीवन एक कला

Drama

देव बन जाय पशु जागा जो चित्त में दानव रूप धराय।



1    236 9

तुम ही तुम हो।

Romance

बेजुबाँ है यारा मोहब्बत मेरी। मेरे इश्क का इजहार सिर्फ तुम ही तुम हो।



1    182 36

शाम की तन्हाई

Romance

सुबह की भोर वो सूरज की बाँहों में हम घिरे महकती जुल्फों में तुम हमारे उलझे।



1    31 1

जख्म

Drama

वक्त हिसाब माँगेगा तुझसे। क्योंकि वक्त ही छिना है तूने हमसे।



1    345 9

नारी

Inspirational

शितल, मधुर, तरल सी नारी अभेद चट्टानों सी नारी कोमल, नाज़ुक सी नारी जागा स्वाभीमान, तो विरांगना भी नारी।



1    139 17

बाबूल का अँगना

Drama

कैसे मैं इठलाऊँ सज-धज आज जानूँ खुशियाँ पल भर की है उधार।



1    85 4

कुदरत का उसूल।

Others

ओ मोहब्बत ही क्या जो रूह को तड़पा ना जाये ओ जिंदगी क्या जो मौत को गले लगाना ना जाने।



1    54 2

छलनी सीना

Abstract Tragedy

हर रोज होता है यहाँ छलनी सीना हर उस माँ का।



1    87 4

माँ सुनना

Others

पेड़ पौधै है तु सिचे दिन रात आंगन के काहे मुझे उखाड फेके पनपू कैसे दुजे आंगन में।



1    126 6

माँ सुनना

Drama

मिन्नत करूँ ये बार बार माँ सुनना। नहीं छोड़ना मुझे बाबुल का अँगना।



1    110 5

हाँ मैं कवि हूँ

Others

जब दुनिया शोर मचाती है मुझे शांति पसंद आती है और जब दुनिया शांत होती है मैं कागज़ पर लिखती रहती हूँ



1    66 3

ए औरत

Drama Inspirational

ए औरत बेटी होने के नाम पर तेरा नाजुक होना मुझे स्वीकार नहीं।



1    47 2

बेटी जन्म लेती है जहाँ

Drama Tragedy

टूटे खिलौने सी बेटी आधी इधर,आधी उधर बँटती है बेटी सपने छोड़ देती है वहाँ बेटी जन्म लेती है जहाँ।



1    65 3

नारी

Drama

ममता की छाँव सी नारी बेटी के दुलार सी नारी। प्यारी प्रियंवदा सी नारी प्रतिशोध की मूरत भी नारी।



1    29 1

मज़ा ही कुछ और है

Romance

ख़ुदा की इबादत करे हर कोई। पर महबूब की इबादत का मज़ा ही कुछ और है



1    104 5

कैसे कहूँ तुम से

Romance

कैसे कहूँ तुम से जब तुम खामोश होते हो तो बड़ी अजीब सी बैचैनी होती है।



1    110 5

इश्क़ है नशा

Drama Fantasy Romance

इश्क़ एक कायनात, इश्क़ एक सफर, इश्क़ एक दरिया, मेरे महबूब का...



1    89 4

तजुर्बे

Others

हमे नही पता हम पास हुये या फेल बस हमने तो तुझे हर वक्त पढ़ा है।



1    94 2

रिश्ता

Drama

ये कैसे बंधन हैं ये कैसे धागे हैं जो इक साथ में हमें पिरोये हैं।



1    48 2

दस्तूर

Others

वो सपने ही क्या, जिसके पीछे नींद ना भागे, वो इबादत ही क्या, तेरे सजदे में जो सर ना झुके...



1    88 4

मन करे।

Others

एहसास दिला रही थी अपने संग संग बहती हवा के झोकों का।



1    64 2

रिश्ते की दीवार

Drama Tragedy

चलो छोड़ दिया है और एक बार उस राह पर चलना जो तेरी यादों के दरवाजे तक पहुँचा देती है।



1    110 5

कभी मै सोचती हूँ

Others

लिपटी रहूंगी साये से तुम्हारे या, तुझमें कहीं खो जाऊंगी ।



1    49 2

आईना

Romance

ना दिल पे मेरे पहरा है ना नींद पे जोर चलता है। भाग जाती है बार बार वो अकेले मुझे छोड़कर।



1    84 4

अभी मैं मशरूफ हूँ

Romance

अभी मैं मशरूफ हूँ आँख भर देखने में। आये हैं वो इस तरह वापस फिर जाने के लिये।



1    110 5

बाबा साहब की चिंगारी

Inspirational

मुझे तोड़नी है वह सारी बेड़ियाँ जो बाँध देती है मेरे इन्सानी अस्तित्व को औरत और परंपरा के नाम पर।



1    173 9

घटा

Romance

हाय, शरमा उठी ये नजर आईने में जो देखी पिया की शरारती नजर।



1    70 3

रुहानी यादें

Romance

रुहानी यादें जिस्म के पार हो आँखें चमका जाती है जब तेरे होठों की हँसी याद आती है।



1    45 2

सौदा दिलों का

Romance Tragedy

चंद रातें क्या गुजरी जागके, नूर चाँदनी का उतरा जैसे, ना शिकवे हुये ना शिकायतें सौदा दिलों का तोड़ बैठे।



1    50 2

अरमान

Romance

रात की ख़ामोशी में सुहागो वाली शहनाई बजे अंधेरो की गुमनाम गली से तुम्हारे अरमानो की, मेरी डोली उठे



1    28 1

बाबासाहब की चिंगारी

Drama Inspirational

मुझे तोड़नी है वह सारी बेड़ीयाँ, जो बांध देती हैं, मेरे इंसान अस्तित्व को, औरत और परंपरा के नाम पर।



1    48 2

कैसे कहूं तुमसे।

Romance

कैसे कहूं तुमसे तुम्हारे ही ख्यालों में। दिनरात मै खोयी खोयी रहती हूँ



1    66 3

लोकतंत्र का हाल

Others

बापू, आंबेडकर, भगतसिंह के देश का आज है निराला हाल......



1    68 3

हर दिल माँगे प्यार

Inspirational

हर दिल माँगे प्यार हर दिल मुस्कराना चाहता है।



1    88 4

परछाई

Drama Inspirational

यह परछाई है, भविष्य की खुशियों की, जो मिटा रही है, अतीत के दुखों को...



1    108 4

फ़साने

Others

हर पल है नया दिन हर पल है नया साल हर मौसम है नया नया हर पल है जीवन का रंगीन समा।



1    74 3

दुआ

Romance

ये मेरे आशिक तू गाये भी जिंदगी के तराने मेरी मोहब्बत में तो भी तेरी कोई गुस्ताख़ी नहीं क्यूंकि मोहब्बत ही है खुद में



1    51 2

डोली

Romance Tragedy

भूल भी गर गये हो, फिर भी पहचान रखना, भले ही अनजानों जैसी।



1    3.3K 3

लोकतंत्र का हाल।

Others

अगर बिके मतदाता पाचसौ की लालच में तो अनुमान लगाओ जरा नेता कितना लुट नोच खाये देश को विकास के नाम पे



1    3.5K 3

हमें आगे बढ़ना चाहिये

Drama Inspirational

नहीं सहलाने चाहिये उन जख्मों को, जो नासूर बनते हों, हमें आगे बढ़ना चाहिये, पिछली बातें भुलाकर...!



1    571 3

डोली

Fantasy Tragedy

कभी गुजरो जो मेरे आँगन से। दो पल रुक जाना, दहलीज के सामने।



1    3.5K 1

मेरा पहला प्यार

Drama Romance

खुद से प्यार करने लगती हूँ, जब सजाती हूँ, बिंदी बनाकर तुमको माथे पे।



1    4.0K 9

इश्क

Drama Inspirational

अदाओं से लुभाना भी तो इश्क है है कौनसा वो समां जब इश्क नहीं होता।



1    7.2K 11

कलम

Drama

ये कैसी सुनसान राहें हैं। हम जिस पे चले जा रहे हैं। शोर तो है हर तरफ। मगर सन्नाटे से घिरा है।।



1    1.3K 7

सीरत

Drama

मेरे अरमान खरीद सके। ऐसी किसी की तिजोरी न थी।



1    1.3K 4

समा

Drama

अभी शाम हुई नहीं, दिन है और बाकी ।



1    6.9K 2

जल्लोश

Others

जल्लोश हा लोकशाहीचा। जल्लोश हा संविधानाचा।



1    259 0

विर

Inspirational

भाग्य हे भाग्यवंताचे। तिरंगा ज्यास लाभे। श्रध्दा सुमने देशवासियांचे। करावे कबूल हुतात्मे।



1    107 0

ऊडून गेली पाखरे सारी।

Tragedy

कोण दिशेने आले सारे, कोण दिशेने गेली सारे। संग होता दोन घडीचा। निघाली सारी विसावूनी।



1    1 0

पंचतत्व

Inspirational

विरान या दुनीयेत भान हरपलो आहे। भयान या दुनीयेची जान विसरलो आहे।



1    2 0

धेय्य

Inspirational

तिर कमान घेवूनी हो सज्ज। गुरू तुझे, तुलाच व्हायचे आहे। शिष्य नको बनू कुणाचा। विषमता इथली द्रोणाचार्य बनून अंगठा तुझा कापणारी आहे।



1    278 5

चौसरपाट

Inspirational

आयुष्य हे चौसर पाट। प्रत्येकास खेळणे आहे। जिवन हे दावावर। इथे हसत लावणे आहे।



1    267 15

वेळेचे कण कण।

Others

काळ चालला वाहून। जसे मुठीतून वाळूचे कण। सांगे काही शहाणपण। ऐकून घे कान उघडून



1    1 0

आई

Inspirational

आई या शब्दात विश्व सारे गुरफटले कारण तिचे चित्त असती सदैव पिलाकडे।



1    1 0

माउली

Action

माउली ची माया। मायेत त्या चंदनाची छाया



1    0 0

बालपण

Children Stories

अवखळ हे बालपण खळखळ वाही झऱ्याप्रमाणे



1    3 0

दोस्ती

Inspirational

धागे जुळन्या रेशीम बंध। गरज काय शब्द बोली। मनास कळले भाव मनीचे। नाते हेच जिवलगीचे।



1    0 0

व्यसन

Tragedy

घटका घटका मोजूनी। प्राण अखेर निघेल। पछतावा ही उरणार नाही। क्षण असा ढेपेल।



1    270 18

युग चालला पुढे पुढे।

Others

चंद्रायानाची सवारी मंगळ ग्रहाची भ्रमती अपृप काही नवे नाही तु मशाल घवून वावरती।



1    1 0

निसर्ग

Others

निसर्गाची आम्ही लेकर, करू पृथ्वीचे संवर्धन। उन, वारा, पाणीने, होइल समृध्द जिवन।



1    203 31

"भितीचे सावट

Tragedy

भितीच्या सावटाने व्यापले आयुष्याला। धुव्यात चालले उडून जिवन। ठेवून मागे या देहाला।



1    22 0

शेकोटी हे पेटली

Tragedy

पोटाची भाकर थापते निव्यावर। सेकोटी हे पेटली सांजच्या पारावर।



1    4 0

सिढी कल्पनेची।

Abstract

हा कोण चित्रकार, निघाला चित्र रंगवायला। हा कोण शिल्पकार निघाला शिल्प घडवायला।



1    260 50

आयुष्य हे चार टप्याचे।

Others

परिवर्तन का? कसे कळेना। युवापण हे मार टप्याचे।



1    24 1

कुलूप बंद।

Romance

नच सोपे प्रेम जपने। काळजात भेद लपने। कुलूप बंद ह्मदयाचे कवाड। तुज विन कोण येइल आत।



1    140 8

जिवन नाव याचेच परिवर्तन

Others

बंद पापणी ही डोळ्याची। स्वप्ने उद्याची आहे लपवूनी। कृष्ण धवल ही स्वप्ने की। रंगीत जीवन आहे दडवूनी।



1    298 46

चला उठा रे।

Inspirational

चला उठारे पेटून उठती। मशाल हाती घेवून क्रांतीची



1    199 49

"बा भिमा शतशत नमन"

Inspirational

गुण गौरव गावे केवढे। पुष्पांजलीस शब्द पडले अपुरे। माथा झुकवी मी युगंधरापूढे। बा भिमा शतशत नमन पहिले



1    399 45

चळवळीच्या नवयुगा।

Inspirational

म्हणून आज पुन्हा गरज आहे झालेल्या क्रांतीच्या प्रतिक्रांतीची



1    437 12

हवे आहे माझे आयुष्य।

Others

मी एक स्त्री आहे। हा काय माझा दोश आहे? समाज व्यवस्था मला इथली कडलीच नाही। पण न्यायव्यवस्था तरी माझ्यासाठी सकारात्मक आहे?



1    23 1

चित्र हे कोरे कोरे

Inspirational

गित माझे जिवनगाणे सवे तुझ्या आळवीणे स्वर माझे तु ऐकावे दोघांनी सुरात चिंब भिजावे।



1    129 5

मन माझे

Others

शब्दांचे बंधन नको माझ्या भावनांना। शब्दांची मर्यादाही नको माझ्या भावनांना।



1    146 7

कालशेश

Inspirational

गडले या गढ्यात कालशेश किती पुरले अवशेश आठवणीचे माझे रे आता उरले।



1    125 5

दिवानी

Inspirational

लोक घेई तिची परिक्षा। देइ जहर पिन्यास। लोक घेइ माझी परिक्षा। शब्द भाले टोचे हृदयात।



1    47 2

हव्याचा बुडबुडा।

Inspirational

ईतभर जागाबी, संग ये नाई। महाल माडीसिवा याले गमे नाई। फुटभर जागे साठी डोकस हा फोडते।



1    186 9

दुर दुर।

Inspirational

ओले चिंब चहुभोवताल। जसे धुक्यांचे ओले, पडले सभोवताल। निघाली पृथ्वी चराचरातून,न्हाउन माखून आणि नटली नववधूप्रमाणे



1    145 7

पावसाच्या सरी

Inspirational

शालू पाचू माझा भरजरी झेलते पदरात पावसाच्या सरी सर.र्र र्र काटा ग पायात रूतला वाऱ्या वर पदर फाटला।।



1    166 7

बंदिस्त

Others

तर मला अधिकार हवे होते माणुसकीचे।। पण बंदिस्त केले नेहमीच मला ।।



1    149 6

प्रेम काय मागतो???

Romance

खऱ्या प्रेमाची फक्त येवढीच मागणी असते.. तुमचा त्याग व समर्पण



1    148 7

आमच्या संबंधांना न्याय द्या

Inspirational

काही फरक पडत नाही आपल्याकडे किती मालमत्ता आहे काही फरक पडत नाही माझ्याकडे किती मालमत्ता आहे



1    266 12

यौवनी या भार।

Romance

यौवनी या भार आज कसे आहे। दिधलास जो शृंगार,नाव तव प्रेम आहे।



1    3.5K 8

काचेच भांड

Others

पुरूषांजवळ जेव्हा, स्त्री ला हरवण्याचे, कोणतेच शस्त्र उरत नाही तेव्हा ते तिच्या चरित्रावर, भ्याड हल्ला करतात.



1    4.2K 9

फक्त तू माझा प्रेम आहेस।

Romance

जो मज झोपेतही जागवीते। काय सांगू तुझे माझे नाते। मज हे ठावूक आहे। फक्त तुच माझा प्रेम आहेस



1    6.5K 8

न्याय

Drama

एकाच्या न्यायाची किंमत दुसऱ्याला अन्यायाने तर मोजून द्यावी लागत नाही...



1    1.2K 9

का तिच्याच माथी लेबल

Drama

का तिच्याच माथी लेबल। तिने जगावे कायम। नात्याची चौकट, बंधनात।



1    6.9K 10

सलाम सैनीक हो। घ्यावा प्रणाम म

Inspirational

सलाम सैनीक हो। घ्यावा प्रणाम माझा



1    13.4K 10

कारण मी आहे स्त्री

Inspirational Tragedy

माझा संघर्ष कधी संपत नाही। कारण मी आहे स्त्री।



1    6.8K 10