Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



किश्वर अंजुम

जीवन के हर क्षण में कविता और कहानी छुपी होती है। मुझे सर्व शक्तिमान ने ये वरदान दिया है कि मैं इन बिखरे मोतीयों को इकट्ठा कर कविता और कहानी की मालाओं में पिरो पाती हूं। ईश्वर, अल्लाह, गॉड का अनगिनत शुक्र है, जो मुझे ये हुनर मिला है। read more


दुर्लभ संयोग

Drama

तो शायद आज आपको ये किस्सा सुनाने मैं रहती ही नहीं।

4    349 48

ख्वाहिश नादान सी

Drama

फिर जंगल जाके लकड़ी लाने की मेरी तमन्ना नहीं रही।

3    257 44

जूठन का पछतावा

Tragedy

चंदा दीदी खामोश हो गईं। मेरे पास भी कहने को कुछ नहीं था।

4    261 26

पैरोल ऑनलाइन

Drama

उदास और जीवन से निराश ज़िंदगी में आशा और खुशियों के रंग खिलखिला उठे।

8    299 36

अन्न बिन विपन्न

Inspirational

कोई मूल्य किसान के उस श्रम को नहीं खरीद सकता जो वह अनाज की एक बाली को उगाने में करता है

5    256 14