Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



sahil srivastava   AUTHOR OF THE YEAR 2018 - NOMINEE

आपका अपना होगा नज़रिया, हमारी अपनी हक़ीक़ते है। Instagram : @sahilsri_ss

  Literary Colonel

जादूगर..

Others

जब वक़्त ना तुम पर तरस खाए, जब ज़ज़्बातों की घटा बरस जाए। जब हर घड़ी काटना मुश्किल लगे, जब किसी...

1    125 6

उठ मेरी जान

Drama

ज़िन्दगी जंग है गिर कर भी संभलना है तुझे उठ मेरी जान मेरे साथ ही चलना है तुझे।

1    355 7

रात ख़ूबसूरत है..

Drama

तब कहीं चुपके से कोई ग़ज़ल मुझे है छेड़ जाती रात ख़ूबसूरत है नींद क्यूँ नहीं आती।

1    321 10

हालात-ए-इश्क़

Romance

तस्सवुर से तस्वीर बनाया करता है, ख़्वाबों से अपने सजाया करता है। जताने की हिम्मत जुटाया करता है, ...

1    138 6

काश

Drama

तू इश्क़ में, डूबी समंदर-सी, काश मैं तेरा, साहिल बनूँ...!

1    6.9K 8

पश्मीना

Drama Romance

मेरी सुलगायी मद्धम आँच को, जलता ही छोड़ देना तुम...!

1    13.7K 6

अल्हड़ बच्चा

Children Drama

इक दौर की बात, थी वो दौर गया, जब मैं एक, अल्हड़ बच्चा था...!

1    7.1K 8

पिता

Inspirational Others

'घूँट घूँट कर पी जाता हूँ ख़्वाहिशों के मय, ज़िम्मेदारियों का बोझ अपने किरदार को दे देता हूँ।' पिता क्...

1    13.5K 6

एक वक्त के बाद

Drama

एक वक़्त के बाद, सब कुछ ख़त्म हो जाता है...

1    13.5K 8

सीखो

Drama Inspirational

इंसान की औलाद हो, इंसान से सीखो...!

1    6.8K 6

बहुत हुआ

Drama

पाप, पुण्य और कर्म, ये फ़साना बहुत हुआ, गंगा में डुबकी का, किस्सा पुराना बहुत हुआ...!

1    13.2K 8

चलो

Inspirational Others

'चलो यूँ भी की अपने अंदर इक इंसान लेके चलो, चलो की अपने नाम में महान लेके चलो।' एक प्रेरणादायी सुंदर...

1    13.3K 7

जूतों की जात

Drama

काम सबका एक, पैरों की हिफ़ाज़त करना, तो फिर ये इतना अलगपन, आखिर क्यूँ ?

1    13.8K 8

एक टुकड़ा छाँव

Drama

एक टुकड़ा छाँव का लेते आना, ज़िन्दगी की उलझनों में, अब झुलस रहा है मेरा वजूद...!

1    13.8K 8

कहानी लिखता हूँ..(सरहदें)

Drama Tragedy

अपनों से अपनों के बिछड़ने की, वो बात पुरानी लिखता हूँ, जो बीत गयी सो बात गयी, क्या ख़ाक कहानी लिखता ह...

2    13.8K 4