Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



इंदर भोले नाथ

आधुनिक हिंदी साहित्य से परिचय और उसकी प्रवृत्तियों की पहचान की एक विनम्र कोशिश : भारत http://merealfaazinder.blogspot.com

  Literary Colonel

यादों के पन्ने से…..

Classics

था वक़्त हमारी मुठ्ठी में मर्ज़ी के बादशाह थे हम थें लड़ते भी, थें रूठते भी फिर भी बे-गुनाह...

1    308 1

ख्वाब

Others

कभी हम भी ख्वाब रखते थे, इक नया जहान बसाने को...

1    191 1

सब कुछ बदल सा गया है

Others

ये शाम जिसके आने से कभी दिल खिल उठा था इस क़दर खामोश ये पहले तो न थी

1    45 2

वरना नस्लें तो इनकी भी इंसानी

Tragedy

इस दिल में भी कुछ अरमां हैं

1    104 5

सिगरेट

Others

मैं अपनी सुलगन को उसकी धुएँ में उछालता रहा, वो हर बार अपनी जलन को ऐश-ट्रे में डालता रहा,

1    253 2

नहीं तो वो ज़िंदगी

Others

वही सड़क वही गलियाँ वही मकान सारे हैं

1    189 2

जमीं पे उतारा था

Others

बर्तन में पानी रख के, बैठ घंटों उसे निहारा था फ़लक के चाँद को जब, जमीं पे उतारा था,

1    305 1

ज़ेहन से तेरे भुलाया गया हूँ मैं

Drama

आज फ़रमाइश पे दिलजलों के बुलाया गया हूँ मैं।

1    30 1

जीवन पथ में अगन बहुत है

Inspirational

है अधूरी जो किस्मत की रेखाए वो लकीरें तुम्हे बदलना होगा

1    45 1

गज़ल

Romance

तेरा दिद हमें हो उस जगह, तेरी आहट जहाँ मिलती न हो इश्क़ जिस्म तक ही नहीं, लाज़मी है रूह तक उतरना ...

1    290 1

दो पल दिल बहल जायेगा

Abstract

रहता नहीं ठहरा हुआ ये वक्त बदल जायेगा, जब रू ब रू होंगे आईने से ख्वाब रेत सा फिसल जायेगा।

1    332 1

सोने की चिड़िया

Tragedy

है देश की अब परवाह किसे, कौन देश का अब गुणगान करे

1    63 2

गज़ल

Romance

रूबरू तुम हो न हो, रहे जिक्र तुम्हारी यादों का चलता रहे सिलसिला यूँ ही मुलाकातों का

1    46 1

बरसों बाद लौटें हम...

Tragedy

बिछड़ के तू भी तो, हमसे तन्हा ही रहा…बरसों बाद मिले थे हम, मिल के दोनो ही रोते चले गये

1    43 2

गज़ल

Romance

वो मुझे नूर सी लगी, गुरुर सी लगी,थी तो पास मेरे पर दूर सी लगी

1    42 0

गज़ल

Romance

है बसर अब भी तेरी यादों में और एतबार की कीमत क्या होगी

1    44 2

गज़ल

Others

मैंने दिल में लाखों हसरतें और और आँखों में कई खाबलिखा है

1    48 1