Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Shivani Kohli

आपके लिए लिखती हूँ, आपके लिए लिखूंगी ।

  Literary Colonel

" अपने "

Inspirational

औलाद की खातिर माँ-बाप अपना सब कुछ लुटा देते हैं और वही औलाद, माँ-बाप को एक ऐसे किनारे पर ला छोड़ती है...

6    14.2K 15

पूर्णविराम

Others

“साहित्य से मुलाकात हुई भी और नहीं भी पर जितनी भी हुई रूह में बस गयी. जीवन के व्याकरण में पूर्णविराम...

11    7.9K 15