Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Vinod Kumar Mishra

सही तू भी है,सही मैं भी हूँ एक नज़रिया तेरा भी,एक नज़रिया मेरा भी। by VK Mishra

  Literary Colonel

मृग-तृष्णा

Inspirational

स्वयं की प्रतिभा पर करता संशय किंकर्तव्यविमूढ़ स्थिति में जीवन पहुँचाया

2    7.3K 32

सरहद

Inspirational Others

'सर झुक गया भगवान का भी उसकी शहादत के सम्मान में, 'ये वो लहू है जो मिल जाये तो गंगा भी पवित्र हो जात...

2    14.0K 26

शायरी

Others

कम शब्दों में ज्यादा बातें ।

1    161 28

तन्हाई

Others Romance

'जीवन में किसी का होना तन्हाई को मिटा देता है, मगर किसी का जन सुकून भी ले जाता है। एक खुबसूरत शायरी।

1    264 38

शायरी

Drama Fantasy

क्या लिखूँ तुझपर,क्या तारीफ करूँ तेरी ग़ज़ल पर ग़ज़ल लिखी नहीं जाती

1    1.4K 35

शायरी

Others

कम शब्दों में ज्यादा बातें ।

1    321 36

दिल

Others

'दिल तोड़ने वाले ही, दिल का हल पूछने आते है । एक खुबसूरत शायरी ।

1    290 36

क्या करें

Drama Fantasy

कैसे महफूज़ रहे तुझ बिन,इस ज़माने में मुझे ताकती इन नज़रों से,डर का क्या करें

1    1.5K 32

पत्थर

Others

'समाज अच्छे दिल वाले लोगो के साथ बुरा करता है, और पत्थर जैसे कठोर लोगो की पूजा करता है।' गागर में सा...

1    113 25

शायरी

Drama Fantasy

लोग धूप से नहीं,हमारी मोहब्बत से जल बैठे

1    1.1K 29

तस्वीर

Others

'समाज में परिवर्तित हो रही दर्दभरी परिस्थितयो को बयाँ कराती हुई खूबसूरत शायरी। मनो गागर में सागर समय...

1    254 46

कैसे कह दें !

Romance

यह कविता प्यार का इज़हार है।

1    14.1K 59

शायद

Drama Fantasy

न क़ुबूल करो हमारा इश्क़,गम नहीं, हम अपनी मोहब्बत कम न करेंगे...!

1    13.6K 23

एक वारिस की चाहत में

Tragedy

यह कविता भृणहत्या पर पर कटाक्ष है।

2    13.4K 34

जी करता है

Romance

कोई फिर से प्यार के वही लम्हें जीना चाहता है।

2    13.7K 54

अन्नदाता

Tragedy

यह कविता समाज में किसान के साथ होते अन्याय को आवाझ देती है ।

2    14.2K 67

रक्षा-बंधन

Others

यह कविता भाई बहन के त्यौहार रक्षाबंधन के बारे में है।

2    15.1K 79