Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Ajay Gupta

Poetry| Screenwriter| Three Poetry Books|| Two collective anthologies|| Three E-books

  Literary Colonel

Platonic Love

Drama Romance

Irrespective of A boy Or a girl Or a eunuch. My love is par divine Fresh and fragrant

1    56 4

Freedom For Me

Others

I wear jeans and goggles I post my selfie I consume liquor I live life carefree.

1    361 7

Policymakers

Abstract

Sipping chilled beverages And enjoying multicuisine food. They draft the policies.

1    40 2

Just a Tree

Others

Shelter for many Is it's quality And see its virtues Charity and simplicity.

1    138 5

Not Asking For More

Drama

Accrued failures Blamed for each fault, Away from success Craving for an exalt

1    52 2

Isn't It Love

Drama Romance

I surrender myself in your existence. And see am doing it With untiring persistence

1    27 1

Beauty Of Life

Abstract

Life is actually beautiful. Because it's not inert. Its a poem containing emotions A pictur...

1    118 6

आ गईं हैं सर्दियाँ

Drama

कँपकँपाती मुफ़लिसी है आ गईं हैं सर्दियाँ।

1    162 41

चाय का कप

Abstract

थाम लेती हो तुम अपने कोमल हाथों की मखमली हथेली से... और लिपटा कर अपनी नर्म उंगलियों के रुई से ग...

1    263 37

सुराख़

Abstract Comedy

बेचारी जनता कैसे जिये, सोच रही है इन सुराखों को कैसे सिये।

1    221 32

फिर ऐसा हो जाएगा

Inspirational

मानो या ना मानो इक दिन फिर ऐसा हो जाएगा।

1    25 2

एकाधिकेन

Abstract

एकाधिकेन का अर्थ यही है इसे ही मन में धरता जा बस।

1    9 1

हिम्मत का मुखौटा

Abstract Drama

ग़लतफ़हमी है दुनिया को

1    46 2

एक ग़ज़ल

Abstract

अपने पर इनका कोई अंकुश नहीं खींचतीं हैं रम-चिलम कठपुतलियाँ।

1    188 12

मेरा घर

Tragedy

लगे प्यारी उन्हें वो डाँट जो लाडो-लडाई हूँ मुझे बिल्कुल न होगा भान कहीं पर मैं पराई हू

1    4 0

उड़ान

Others

पाँव लाँघ लें चौखट को तो, लाँछन लाखों लगते

1    27 1

मददगार

Inspirational

एक पेड़, अपने आप में जंगल हो सकता है जाने कितने पंछियों को घर गिलहरियों को कोटर

1    3 0

जो हुआ सो हुआ

Drama

अपना तो अपना रहा जो हुआ सो हुआ।

1    167 31

खलनायक भारत के

Tragedy

बागडोर तुमको हम सौंपे तुम मनमानी कर जाते हो

1    201 42

सांझे सपने

Abstract

आखिर मैं तुम्हारी अर्धांगिनी हूँ और तुम मेरे जीवनसाथी।

1    13 0

शौक

Abstract

अपने शौक मारे हैं इन्होंने

1    26 1

एलबम

Inspirational

हाँ संगीत सीखा मैंने

1    21 1

मोक्ष

Others

पर सुना तो यह भी है आत्मा समाप्त नहीं होती।

1    47 3

ये कैसा प्रेम

Others

घर से झूठ बोल कर सैर-सपाटे पर जाकर नशे में खो जाते हैं वो

1    7 0

मुँहदिखाई

Drama

और निभा लेते हैं ये नए जमाने की रस्में।

1    137 15

बचपन ऐसा ही होता है

Abstract

बात समझने की है यारों बचपन ऐसा ही होता है।

1    364 3

शिखर से सागर तक

Others

न ऊँचाई से गिरने का भय बस चलती रही मैं तुमसे मिलने की अकुलाहट लिए

1    43 2

अपनी करनी अपने सिर

Comedy

बिना बुलाये आ जाती है अपने पर शामत।

1    160 22

आस-प्रभात

Classics

बीता हुआ कल हमें जीवन के सीख देता है जिसके सहारे हम अपना भविष्य उज्जवल बना सकते हैं

1    23 1

एक साल बाद

Drama

मन की हूक मन में उठती है, और मन में ही रह जाती है।

1    157 31

निबाह

Others

लोक कल्याण की कभी बात करते हैं विश्व उत्थान की

1    25 1

जीवन की राहें

Abstract

जो फिर ना अनजान हो, ज्ञान बढ़ाना जोड़।

1    211 19

जादू का सामान

Abstract

सबके मतलब के यहाँ, मिलते हैं अरमान।

1    165 12

मैं और तुम

Romance

मैं आऊँ तो संग आना तुम घर को आन सजाना तुम।

1    274 47

शीर्षक

Others

लेकिन जब नेह का मेह बरसा और जब भावों के हल्के झोकों ने दुलारा,

1    226 23

हर सावन में

Romance

जब भी झड़ी लगती है सावन की ये टपकने लगती हैं।

1    212 1

ख़तरनाक इश्क़

Drama

जब ख़बर प्रेम कहानी की हुई बीवी को फिर तमाशा मेरा ऐन सड़क पर निकला।

1    66 3

शब

Others

चाँद बिंदी बन के माथे से लगा हर सितारा जैसे चुनरी में जड़ा क़तरा-क़तरा चाँद हर दम घट रहा

1    64 3

ग़ज़ल

Romance

वक़्त पर क्यों नहीं किया इज़हार अब तलक मुझको सालता है अतीत

1    234 6

जीने दो मुझे

Abstract

तुम्हारी उंगलियों के पोरों से लिखा जाता स्याही और कागज़ के बिना।

1    201 5

जिगसॉ पज़ल

Inspirational

हर धर्म, समुदाय, हर वर्ण, लिंग, हर वर्ग, जाति, पंथ, उस पज़ल के हल का

1    339 2

बनेंगें विश्व विजेता

Abstract

ऊंचा रखना ध्वज, यही प्रयास हमेशा।

1    149 4

यह कैसा व्यापार

Classics

शिक्षा पर भी ध्यान, तनिक तो यारा दे लो।

1    361 6

अर्धांग-अर्धांग

Others

तुम सागर तो मैं सरिता हूँ मेरी परिणति हो तुम वरना हैं केवल पानी हम।

1    84 2

रेशमी ख़्वाब और तुम

Drama

लाल बिंदी और लाली लब और तुम्हें दुल्हन सा सजाऊँ।

1    96 4

थोड़ा पानी, थोड़ा ख़्याल

Abstract

पंछियों का साथ, फलों की सौगात।

1    30 1

बेसमझ आग

Tragedy

काश, आग समझदार हो जाए।

1    111 1

बुढ़ापे की लाठी

Tragedy

कब सोचा था इस जीवन में यह घड़ी भी आएगी

1    76 3

माया का चक्कर

Classics

सच को देख सामने अपने बहुत मगर पछतायेगा।

1    90 2

तिलक से राजतिलक

Drama

लोकतंत्र के अधिकारों का, हमने ऋण चुकताया।

1    60 2

क्या फ़र्क़ पड़ता है

Inspirational

क्या फ़र्क़ पड़ता है कि क्या देखा है मैंने सपना

1    103 1

भय की सूरत

Drama

हाँ, भय की सूरत, सच्चाई की सूरत जैसी है।

1    224 4

दर्द और संकल्प

Inspirational

सुनो सुनो मैं सबसे अपने मन की कहने आया हूँ आज नहीं तन बाकी मेरा हवा मैं बन के आया हूँ

1    61 2

पुलवामा: दर्द और संकल्प

Action

और लिपट कर शान से अपने ध्वज में फिर से आऊंगा।

1    57 2

माता-पिता और घर

Others

घर दोनों के आधे-आधे संकल्पों का प्रयासों की चाबियों से पूर्ण विकसित स्वप्न है।

1    413 21

एक वार्ड की आपबीती

Tragedy

हमेशा हमेशा के लिए इस सरकारी अस्पताल के जच्चा-बच्चा वार्ड को।

1    65 1

बुध्द-पूर्णिमा

Others

कर कठोर तप-साधना, बुद्ध हुए सिद्धार्थ

1    248 44

अमर मिलन

Fantasy

लो, मेरी छाया को ले लो लो, मेरी रूह को ले लो लो, मेरे एहसास को ले लो, इसे अपना लो।

1    409 49

संघर्ष

Inspirational

सब हतोत्साहित करें तो कोशिशें करते रहें है यही संकल्प अब मंज़िल को पाना है मुझे

1    285 32

प्रिज़्म

Others

प्रिज़्म बन कर इंसान, अपनी ओर आती रोशनी की हर किरण को तोड़ देना चाहता है अलग अलग रंगों म...

1    453 43

सरल माहौल और मिजाज़ की एक ग़ज़ल

Others

कहाँ लम्बी कथा सुनता शराबी समझ जाता है अंगूरी इशारा

1    48 1

इशारा

Drama

वो सर से पाँव तक पूरी इशारा।

1    411 50