@1z8hq9mp

®You©H@ Pathak
Literary Captain
1085
Posts
25
Followers
0
Following

नमस्कार ,राम राम सगळ्यात आगोदर तुमचं सगळ्यांच माझ्या प्रोफाइल वर मनापासून स्वागत आहे.🙂 खरं तर मला वाचायला आवडतं पण आता थोडंस लिहायला येतंय का ते फक्त बघतेय.तुमचा आशीर्वाद असाच राहूदे! आणि माझ्या प्रोफाइल ला visite दिल्याबद्दल धन्यवाद🙏🏻. पुन्हा पुन्हा येत चला, वाचत रहावा ..खुश रहावा.. GOD BLESS... Read more

Share with friends
Earned badges
See all

Submitted on 08 May, 2021 at 13:55 PM

सकारात्मकता छू जाने पर मनुष्य का आंतरिक विकास हो जाता है।

Submitted on 08 May, 2021 at 12:54 PM

मौसम का बदला स्वाभाविक है मनुष्य का बदलना शोभा नही देता।

Submitted on 08 May, 2021 at 12:51 PM

जिंदगी की यात्रा हर किसीकी अलग है मुसाफिर तो हम सब है,लेकिन हमें ज्याना एक ही और है जहाँ मिट्टी माँ और लकड़ी बाप है वही जिंदगी की यात्रा का आखिरी स्वरूप है।

Submitted on 08 May, 2021 at 12:47 PM

जिंदगी तो एक यात्रा है, हम सब मुसाफिर।

Submitted on 08 May, 2021 at 12:42 PM

जिंदगी तो एक यात्रा है, हम सब मुसाफिर।

Submitted on 08 May, 2021 at 12:39 PM

जिंदगी तो एक शर्बत की ग्लास है उसका स्वाद धीरे धीरे ही लेना चाहिए।

Submitted on 08 May, 2021 at 12:38 PM

दया,क्षमा,शांति जिसके पास उस व्यक्ति में है भगवान का वास।

Submitted on 08 May, 2021 at 12:36 PM

मौसम की तरह लोग बदलते है। क्या आपको भी कभी पराये अपने लगते है?

Submitted on 08 May, 2021 at 12:35 PM

जो मनुष्य अपने मोह पर काबू रखता है वो सारी दुनिया पर काबू रखने के काबिल होता है।


Feed

Library

Write

Notification
Profile