उसके चुनर को छुआ तो बेरंग जिंदगी में रंग भर कर जाएगी उसके हृदय को छुआ तो पत्थर को पिघला कर मोम बनाएगी पर उसकी इज्जत को छुआ तो वो त्राहि-त्राहि मचा जाएगी

By Sonam Kewat