वह लोगों में कभी भी आसानी से घुलती नहीं थी तभी तो उसे झूठी तारीफें सुनने को मिलती नहीं थी

By Sonam Kewat