तुम्हें अगर वापस आना हो तो अच्छा खासा इंतजाम करते आना क्योंकि कुछ दरारें हैं हमारे बीच जो अब बढ़ती ही जा रही हैं

By Sonam Kewat