औरत है औरों के जैसा व्यवहार करो वो इज्जत तुम्हारे भी घर में है उसे गैरों के नाम पर बदनाम कर ना यूँ ही हाहाकार करो

By Sonam Kewat